Home    

दमण म्युनिसिपल काउन्सिल फिर से भाजपा के हाथ..।

दमण म्युनिसिपल काउन्सिल फिर से भाजपा के हाथ..।

- प्रिसाइडिंग ऑफिसर निलेश निशिकांत गुरव ने कहा: डीएमसी प्रेसिडेंट के इस्तीफे के बाद अविश्वास प्रस्ताव के लिए वोटिंग की जरूरत नहीं ।
दमण डीएमसी प्रेसिडेंट जयंति पटेल ने अपने खिलाफ पेश अविश्वास प्रस्ताव के शक्ति परीक्षण के पहले ही 17 March को म्युनिसिपल डायरेक्टर को अपना इस्तीफा सौंप दिया। डीएमसी सभागार में आज शाम 4 बजे शक्ति परीक्षण होना था, लेकिन जयंति पटेल ने दोपहर में ही कलेक्ट्रेट जाकर म्युनिसिपल डायरेक्टर को अपना त्यागपत्र सौंप दिया। डीएमसी में शक्ति परीक्षण कराने को तैयार बैठे पीठासीन अधिकारी निलेश निशिकांत गुरव को जब जयंति पटेल द्वारा इस्तीफा सौंप देने की बात पता चली तो उन्होंने भाजपा के 9 काउंसिलरों के बहुमत वाले पत्र को देखकर कहा कि अब शक्ति परीक्षण कराने की जरूरत ही नहीं रह जाती है। जयंति पटेल के डीएमसी प्रेसिडेंट से इस्तीफा देने के बाद प्रदेश भाजपा अध्यक्ष गोपाल दादा से जब इस पर प्रतिक्रिया मांगी गई तो गोपाल दादा ने कहा कि जयंति पटेल ने घबराकर शक्ति परीक्षण के पहले ही इस्तीफा दे दिया। जयंति पटेल की भाजपा में वापसी होगी या नहीं इस सवाल के जवाब में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष गोपाल दादा ने कहा कि जयंति पटेल ने अनुशासन तोडकर कांग्रेस का दामन थाम लिया था। कांग्रेस से जयंति पटेल इस्तीफा देंगे और उनका इस्तीफा कांग्रेस स्वीकार करती है या नहीं उसे भी देखना पडेगा। गोपाल दादा ने कहा कि हमारे पास 10 काउंसिलरों का पूरा बहुमत है। हम जल्द ही डीएमसी का नया प्रेसिडेंट चुन लेंगे। इसके लिए अभी समय है, इस मुद्दे पर आलाकमान और काउंसिलरों के साथ चर्चा-विचारणा करके ही नये प्रेसिडेंट के नाम की घोषणा की जायेगी। गोपाल दादा ने कहा कि प्रशासक प्रफुल पटेल डीएमसी में दल-बदल रोकने के लिए दल-बदल कानून लागू कराने की दिशा में काम कर रहे हैं और जल्द ही इसे अमल में लाया जायेगा। वहीं वाइस प्रेसिडेंट परसीस दमणिया ने कहा कि जब तक डीएमसी का नया प्रेसिडेंट चुन नहीं लिया जाता तब तक के लिए उन्हें ही इंचार्ज डीएमसी प्रेसिडेंट का चार्ज सौंपा गया है। भाजपा की ओर से आज शौकत मिठाणी, मुकेश पटेल, चंद्रगिरी टंडेल, परसीस दमणिया, लक्ष्मी माछी, लता टंडेल, ईरा लाला, तमन्ना मिठाणी, सुरेखा हलपति एवं अनिल टंडेल उपस्थित रहे।



Comments